Azadi ka Amrit Mahatsav

गृहस्वामी बनने की यात्रा शुरू करना एक रोमांचक प्रयास है, और बैंक ऑफ महाराष्ट्र प्रत्येक गृहस्वामी की यात्रा को विशेष समझता है। पहली बार घर खरीदने वालों से लेकर पुनर्वित्त या नवीनीकरण चाहने वालों तक की विभिन्न आवश्यकताओं के अनुरूप तैयार किए गए गृह ऋण उत्पादों की विविध श्रृंखला को एक्सप्लोर करें। ग्राहक अनुकूल आवास ऋण उत्पादों, प्रतिस्पर्धी ब्याज दरों और पारदर्शिता के प्रति प्रतिबद्धता के साथ, आपके गृह स्वामित्व के सपनों को साकार करने के लिए महाबैंक एक विश्वसनीय भागीदार के रूप में उपस्थित है।

बैंक ऑफ महाराष्ट्र का चयन करें और अपने सपनों का घर पाने की खुशी से परिपूर्ण भविष्य की ओर आत्मविश्वास से कदम बढ़ाएं!

best home loan rates

ब्याज दर

8.35% प्रति वर्ष

महा सुपर हाउसिंग लोन प्रकार

  • 1.

    महा सुपर हाउसिंग लोन स्कीम :
    निर्माण/अधिग्रहण के लिए

  • 2.

    महा सुपर हाउसिंग लोन स्कीम:
    भूखंड की खरीद और उस पर निर्माण के लिए

  • 3.

    महा सुपर हाउसिंग लोन स्कीम:
    मरम्मत के लिए

आवास ऋण की विशेषताएं व लाभ

  • best home loan rates,plot loan interest rate,home loan interest rates
    कम ईएमआई
  • higher home loan amount
    उच्च ऋण राशि
  • track my loan
    ट्रैक माय लोन
  • approved projects
    अनुमोदित परियोजनाएं
  • Simplified Disbursement
    सरलीकृत संवितरण
  • No processing fee
    कोई प्रोसेसिंग शुल्क नहीं
  • no hidden charges
    कोई छिपे प्रभार नहीं
  • no prepayment penalty
    कोई पूर्व-भुगतान दंड नहीं
  • महिलाओं और रक्षा कर्मियों को 0.05% रियायत।
  • अधिकतम कार्यकाल 30 वर्ष तक / 75 वर्ष की आयु तक।
  • कोई पूर्व-भुगतान / पूर्व-क्लोजर / आंशिक भुगतान प्रभार नहीं।
  • आवास ऋण उधारकर्ता के लिए कार ऋण और शिक्षा ऋण की ब्याज दर में रियायत।

आवास ऋण के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • विधिवत पूर्ण और हस्ताक्षरित आवेदन पत्र।
  • दो पासपोर्ट साइज फोटो।
  • पहचान का प्रमाण: (कोई एक)
    • चुनाव पहचान पत्र
    • पैन कार्ड
    • आधार कार्ड
    • ड्राइविंग लाइसेंस
    • वर्तमान नियोक्ता द्वारा जारी फोटो पहचान पत्र
    • पासपोर्ट
  • निवास का प्रमाण : (कोई एक)
    • बिजली बिल
    • चुनाव पहचान पत्र
    • टेलीफोन बिल (लैंडलाइन)
    • आधार कार्ड
    • ड्राइविंग लाइसेंस
    • वर्तमान नियोक्ता द्वारा जारी फोटो पहचान पत्र
    • पासपोर्ट
  • वेतनभोगी व्यक्तियों के लिए
    • पिछले 3 महीनों की नवीनतम वेतन पर्ची की मूल/ प्रमाणित प्रति
    • आयकर विभाग द्वारा विधिवत पावती दी गई पिछले 2 वर्षों के आयकर रिटर्न की प्रतियां / आयकर मूल्यांकन आदेश या नियोक्ता से पिछले 2 वर्षों के लिए फॉर्म 16।
    • जहां भी संभव हो, मासिक किस्त के प्रेषण के लिए नियोक्ता से वचनबद्धता।
    • पिछले 6 महीनों का बैंक खाता (वेतनभोगी खाता) विवरण (अन्य बैंक के मामले में)
  • गैर-वेतनभोगी वर्ग / कारोबारी / व्यावसायिकों के लिए
    • आय, लाभ और हानि खाते, तुलन पत्र, लेखापरीक्षा रिपोर्ट आदि की गणना सहित नवीनतम 3 वर्ष के आयकर रिटर्न (व्यावसायिकों के मामले में 2 वर्ष)।
    • शॉप एस्टैबलिशमेंट एक्ट
    • कर पंजीकरण प्रति
    • कंपनी पंजीकरण लाइसेंस
    • पिछले एक साल का बैंक स्टेटमेंट
  • निवल मालियत साक्ष्य /आय साक्ष्य (यदि लागू हो) के साथ गारंटीदाता फॉर्म
  • केवाईसी दस्तावेजों के साथ गारंटीदाता का आयकर रिटर्न जैसा बिंदु 3 और 4 में उल्लिखित है
  • अधिग्रहण (पुनर्वित्त) के मामले में:
    1. हालिया तारीख के अनुसार ऋण बकाया विवरण
    2. पिछले 12 महीनों के लिए ऋण खाता विवरण
    3. बैंक से दस्तावेज़ पावती रसीद
  • संपत्ति दस्तावेज:
    1. आवासीय इकाई की खरीद के लिए किए गए भुगतान की रसीदें
    2. प्रस्तावित निर्माण/ खरीद के अनुमोदित ड्राइंग्स की प्रति
    3. फ्लैट/ घर के निर्माण के लिए सक्षम प्राधिकारी से अनुमति
    4. अर्बन लैंड सीलिंग एंड रेगुलेशन एक्ट 1976 के अंतर्गत सक्षम प्राधिकारी से अनुमति
    5. निर्माण की जाने वाली संपत्ति के लिए पंजीकृत वास्तुकार/ अभियंता से बिक्री समझौता/ बिक्री विलेख/ विस्तृत लागत अनुमान का अनुबंध।
    6. बिल्डर/ को-ऑपरेटिव सोसाइटी/ विकास प्राधिकरणों/ अपार्टमेंट मालिकों के संघ आदि से आवंटन पत्र।
    7. अन्य दस्तावेज निम्नलिखित के आधार पर::
      1. बिल्डर से सीधे खरीदी जाने वाली संपत्ति (तैयार /निर्माणाधीन)
      2. किसी पंजीकृत सहकारी हाउसिंग सोसाइटी से संबंधित संपत्ति
      3. पुनर्विक्रय में खरीद।
      4. किसी भी विकास प्राधिकरण द्वारा प्रत्यक्ष बिक्री
      5. भूमि के अलग प्लाट पर मकान का निर्माण।
  • अनिवासी भारतीयों के लिए अतिरिक्त दस्तावेज
    • रोजगार अनुबंध की प्रति (यदि अनुबंध अंग्रेजी के अलावा किसी अन्य भाषा में है, तो उसका अंग्रेजी में अनुवाद किया जाना चाहिए और नियोक्ता / भारतीय दूतावास द्वारा सत्यापित किया जाना चाहिए)
    • वर्तमान नियोक्ता द्वारा जारी पहचान पत्र की प्रति
    • सतत निर्वहन प्रमाणपत्र, यदि लागू हो
    • नवीनतम वर्क परमिट की प्रति
    • पासपोर्ट पर मुहर लगी वीज़ा की प्रति
    • एनआरई बैंक खाता पासबुक या खाते का विवरण
    • पिछले 6 महीनों का ओवरसीज बैंक खाता विवरण, जिस खाते में वेतन जमा होता है
    • देश में उपलब्ध सक्षम प्राधिकारी द्वारा प्रमाणित सहायक कार्यालय सहित विदेशी कार्यालय द्वारा विधिवत रूप से सत्यापित वेतन प्रमाण पत्र /आय विवरण प्रस्तुत किया जा सकता है। इसमें चार्टर्ड/ प्रमाणित लेखाकार, अंतर्देशीय राजस्व विभाग के अधिकारी (भारत में आयकर अधिकारियों के समान) या इस उद्देश्य के लिए निर्दिष्ट कोई अन्य एजेंसी भी शामिल हो सकते हैं। जहां कहीं भी सत्यापन संभव न हो, इसे विधिवत नोटरीकृत करके प्रस्तुत किया जा सकता है।
  • पीआईओ के लिए अतिरिक्त दस्तावेज
    1. पीआईओ कार्ड या नीचे दिए गए किसी भी दस्तावेज की एक फोटोकॉपी:-
    2. भारत/ विदेश के जन्म स्थान को दर्शाने वाला वर्तमान पासपोर्ट
    3. भारतीय पासपोर्ट, यदि पहले धारित किया गया हो
    4. विवरण के साथ माता-पिता या दादा-दादी का पासपोर्ट जो उसके पीआईओ होने के दावे की पुष्टि करता है।

आवास ऋण ब्याज दर

bank of maharashtra home loan interest rate

बैंक ऑफ महाराष्ट्र आपको कम ईएमआई के साथ अपने सपनों का घर खरीदने में मदद करता है। वेबसाइट पर ईएमआई कैलकुलेटर आपके लिए यह काम करता है। अपनी पात्रता की जांच करें, अपने दस्तावेज अपलोड करें और तत्काल सैद्धांतिक मंजूरी प्राप्त करें।


home loan,Housing Loan,home loan india,home loan in india

आवासीय ऋण ब्याज दर

8.35% प्रति वर्ष

अधिक ब्याज दरों और प्रभारों के लिए यहां क्लिक करें

आवास ऋण ईएमआई कैलकुलेटर

Principal Loan Amount *:
Interest Rate ( % p.a ) *:
Loan Term (Years) * :
SHOW EMI

आवास ऋण पात्रता

home loan eligibility

बैंक ऑफ महाराष्ट्र कैसे तय करेगा कि मैं आवास ऋण की किस राशि के लिए पात्र हूं?

अधिकतम ऋण राशि अनुमेय कटौती मानदंडों, अधिकतम अनुमेय एलटीवी अनुपात, अनुरोधित ऋण राशि के आधार पर निर्धारित ऋण राशि से न्यूनतम होगी।


अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (एफएक्यू)

frequently asked questions

आवास ऋण का लाभ निम्नलिखित के लिए उठाया जा सकता है

बैंक ऑफ महाराष्ट्र आवास ऋण ऑनलाइन आवेदन करने, त्वरित ऋण प्रोसेसिंग, आकर्षक ब्याज दरें, कस्टमाइज्ड पुनर्भुगतान विकल्पों और सरल तथा परेशानी मुक्त दस्तावेजीकरण लागू करने की सुविधा जैसे कई लाभ प्रदान करता है।

महा सुपर आवस ऋण की विशेषताएं नीचे दी गई हैं:

  • महिलाओं और रक्षा कर्मियों को 0.05% रियायत।
  • अधिकतम कार्यकाल 30 वर्ष तक / 75 वर्ष की आयु तक।
  • कोई पूर्व-भुगतान /पूर्व-क्लोजर /आंशिक भुगतान प्रभार नहीं।
  • आवास ऋण उधारकर्ता के लिए कार ऋण और शिक्षा ऋण की ब्याज दर में रियायत।

अधिकतम ऋण राशि अनुमेय कटौती मानदंडों, अधिकतम अनुमेय एलटीवी अनुपात, अनुरोधित ऋण राशि के आधार पर निर्धारित ऋण राशि से न्यूनतम होगी।

ईएमआई उस महीने के बाद वाले महीने से शुरू होता है जिसमें ऋण का संवितरण किया जाता है। निर्माणाधीन संपत्तियों के लिए ऋण हेतु ईएमआई आमतौर पर पूर्ण आवास ऋण वितरित करने के बाद शुरू होता है, लेकिन ग्राहक को जैसे ही अपना पहला संवितरण प्राप्त होता है, अपनी ईएमआई आरंभ करना चुन सकते हैं और उनकी ईएमआई प्रत्येक अनुवर्ती संवितरण के साथ आनुपातिक रूप से बढ़ेगी। पुनर्विक्रय मामलों के लिए, चूंकि पूरी ऋण राशि को एक बार में ही संवितरित किया जाता है, इसलिए पूरी ऋण राशि पर ईएमआई संवितरण के महीने के अनुवर्ती से शुरू होता है।

हां, भारत में कुछ परिस्थितियों में गृह ऋण को एक बैंक से दूसरे बैंक में अंतरण करना संभव है।
गृह ऋण अंतरण आम तौर पर मौजूदा गृह ऋण को एक बैंक या वित्तीय संस्थान से दूसरे में स्थानांतरित करने की प्रक्रिया को संदर्भित करता है। यह नए ऋणदाता द्वारा दी जाने वाली बेहतर ब्याज दरों, कम शुल्क या बेहतर ऋण शर्तों का लाभ उठाने हेतु किया जाता है।

परिवर्तनीय(फ्लोटिंग) ब्याज दर जिसे कभी-कभी परिवर्तनशील ब्याज दर के रूप में जाना जाता है, यह एक ऐसी ब्याज दर है जो संदर्भ दर या सूचकांक में परिवर्तन के अनुसार समय के साथ बदलती रहती है।
इसका उपयोग अक्सर बंधक, गृह ऋण और अन्य निवेश जैसे वित्तीय उत्पादों में किया जाता है।

भारत में गृह ऋण हेतु ईएमआई (समान मासिक किस्त) की गणना हेतु, हमें ऋण राशि, ब्याज दर और ऋण अवधि पर भी विचार करना चाहिए। सटीक ईएमआई का अनुमान प्राप्त करने हेतु, बैंक ऑफ महाराष्ट्र की वेबसाइट पर जाएं और गृह ऋण की ईएमआई कैलकुलेटर का उपयोग करके सटीक ईएमआई लागत की गणना करें।
50 लाख के गृह ऋण पर 8.50% प्रति वर्ष की ब्याज दर और 15 साल की अवधि हेतु अनुमानित ईएमआई लगभग ₹49237 होगी।

ग्राहकों की ज़रूरतों और आवश्यकताओं के आधार पर, भारत में विभिन्न प्रकार के गृह ऋण उपलब्ध हैं।
कुछ लोकप्रिय गृह ऋण के प्रकार जिसमें शामिल हैं,

  • प्लॉट खरीद और उस पर निर्माण हेतु ऋण
  • गृह /फ्लैट की खरीद हेतु ऋण
  • मौजूदा घरों की मरम्मत/नवीनीकरण हेतु ऋण
  • गृह विस्तार ऋण
  • एनआरआई गृह ऋण

बैंक ऑफ महाराष्ट्र, महा सुपर हाउसिंग ऋण योजना के अंतर्गत विभिन्न प्रकार के गृह ऋण प्रदान करता है। अधिक जानकारी हेतु कृपया वेबसाइट पर जाएँ

भारत में गृह ऋण की पात्रता को प्रभावित करने वाले कुछ कारक हैं:

  • आय
  • क्रेडिट स्कोर
  • रोजगार स्थिरता
  • आयु
  • मौजूदा ऋण दायित्व
  • डाउन पेमेंट
  • संपत्ति मूल्य और स्थान
  • ऋण अवधि

हां, भारत में करीबी रिश्तेदारों के साथ संयुक्त रूप से गृह ऋण प्राप्त करना संभव है।
संयुक्त गृह ऋण आम हैं, जो ग्राहकों को विभिन्न लाभ प्रदान करते हैं। जब दो या दो से अधिक लोग एक साथ गृह ऋण हेतु आवेदन करते हैं, तो वे दायित्व साझा करने के साथ-साथ उच्च ऋण राशि हेतु पात्र होते हैं।

भारत में गृह ऋण प्राप्त करना एक महत्वपूर्ण वित्तीय निर्णय है। हालाँकि इस प्रक्रिया हेतु कुछ दस्तावेज़ीकरण और प्रयास की आवश्यकता हो सकती है, लेकिन ऐसे कई कदम हैं जो आप गृह ऋण के स्वीकृत होने की संभावनाओं को बेहतर बनाने हेतु उठा सकते हैं।

  • जांचें कि क्या आप पात्र हैं
  • अच्छा क्रेडिट स्कोर बनाए रखें
  • सही ऋण प्रकार चुनें
  • अपने दस्तावेज़ व्यवस्थित करें

भारत में गृह ऋण पात्रता की जांच करने हेतु, आपको निम्नलिखित मानदंडों पर विचार करना होगा:

  • अपनी आय और वित्तीय स्थिरता पर विचार करें
  • अपना क्रेडिट स्कोर निर्धारित करें
  • अपनी पुनर्भुगतान क्षमता का पता लगाएं
  • ऑनलाइन पात्रता कैलकुलेटर का उपयोग करें

भारत में गृह ऋण हेतु आवेदन करते समय प्राथमिक आवेदक के साथ सह-आवेदक कोई भी व्यक्ति हो सकता है जो वित्तीय दायित्व और प्राथमिक आवेदक के साथ ऋण की जवाबदेही साझा करता हो।
सह-आवेदक को एक समान उधारकर्ता माना जाएगा और ऋण चुकौती हेतु समान रूप से जवाबदेह होगा।
यह प्राथमिक आवेदक का जीवनसाथी, माता-पिता, बच्चे, भाई-बहन या परिवार के अन्य करीबी रिश्तेदार हो सकते हैं जिनके पास आय का एक स्थिर स्रोत है।

गृह ऋण की पुनर्भुगतान अवधि आम तौर पर आपको ऋण वितरित होने /या संपत्ति खरीद लेनदेन पूरा होने के बाद शुरू होती है। इसका मतलब यह है कि एक बार जब आपको धनराशि प्राप्त हो जाती है और घर का स्वामित्व आपको हस्तांतरित कर दिया जाती है, तो आपकी पुनर्भुगतान बाध्यताएं शुरू हो जाएंगी।
आपके गृह ऋण चुकौती अवधि की विशिष्ट प्रारंभ तिथि आपके द्वारा ऋणदाता के साथ हस्ताक्षरित ऋण समझौते में उल्लिखित होनी चाहिए। पुनर्भुगतान प्रारंभ तिथि, पुनर्भुगतान अनुसूची, ब्याज दर और आपके विशिष्ट ऋण से संबंधित किसी भी अन्य प्रासंगिक विवरण सहित नियमों और शर्तों को समझने हेतु अपने ऋण समझौते की समीक्षा करना महत्वपूर्ण है।

आवास ऋण के लिए आवेदन कैसे करें

home loan apply online Scan this Code to see
ऑनलाइन डिजिटल ऋण के लिए आवेदन कैसे करें

हमारे बैंक से डिजिटल ऋण सुविधा का लाभ उठाने के लिए चरण-दर-चरण निर्देशों का पालन करें।

ऑनलाइन डिजिटल ऋण के लिए आवेदन कैसे करें, देखने के लिए निम्नलिखित लिंक पर क्लिक करें:

ऑनलाइन डिजिटल ऋण के लिए आवेदन कैसे करें

समान उत्पाद

home improvement loans,home renovation loan,best home loan rates,best home loan,best bank for home loan,home construction loans,plot loan interest rate,land purchase loan,home loan

नया घर/ फ्लैट खरीदने के लिए

बैंक ऑफ महाराष्ट्र नया घर खरीदने या फ्लैट खरीदने के लिए ऋण प्रदान करता है।

अधिक जाने
home renovation loan,home construction loans

आवास विस्तार ऋण

यह आपके घर में अतिरिक्त कमरे और मंजिल आदि जैसे विस्तार या स्थान संवर्धन हेतु ऋण है।

अधिक जाने
land purchase loan,Housing Loan

प्लॉट खरीद ऋण

प्रत्यक्ष आवंटन या एक दूसरे विक्रय संव्यवहार के माध्यम से प्लॉट की खरीद के लिए...

अधिक जाने
home renovation loan

आवास नवीनीकरण ऋण

यह टाइलिंग, फर्श और पेंटिंग इत्यादि जैसे कई तरीकों से अपने घर का नवीनीकरण करने के लिए एक ऋण है।

अधिक जाने