बेटी बचाओ बेटी पढाओ

आज की प्रतिस्पर्धी दुनिया में जहां प्रगति और अवसर प्रचुर हैं, वहाँ करियर विकास और सफलता के लिए उच्च शिक्षा प्राप्त करना आवश्यक हो गया है। हम छात्रों को उनके वांछित पाठ्यक्रमों में आगे बढ़ाने और उनके उज्जवल भविष्य के अवसरों को उपलब्ध कराने हेतु आवश्यक वित्तीय सहायता प्रदान करके उन्हें सशक्त बनाते हैं।

अपनी आवश्यकताओं के अनुरूप बैंक ऑफ महाराष्ट्र के शिक्षा ऋण से शुरुआत करें और अपने शैक्षिक सपनों को हकीकत में बदलें!

शिक्षा ऋण ब्याज दर

ब्याज दर

8.10%प्रति वर्ष


शिक्षा ऋण योजनाएं:

शिक्षा ऋण की विशेषताएं एवं लाभ

  • न्यूनतम ईएमआई
    न्यूनतम ईएमआई
  • उच्च ऋण राशि
    उच्च ऋण राशि
  • अपने ऋण को ट्रैक करें
    अपने ऋण को ट्रैक करें
  • सरल संवितरण
    सरल संवितरण
  • कोई अप्रत्यक्ष शुल्क नहीं
    कोई अप्रत्यक्ष शुल्क नहीं
  • कोई पूर्वभुगतान दंड नहीं
    कोई पूर्वभुगतान दंड नहीं
  • कोई मार्जिन राशि नहीं.100% तक वित्तपोषण (प्रीमियर संस्थानों के लिए)
  • कोई संपार्श्विक प्रतिभूति नहीं (प्रीमियर संस्थानों के लिए)
  • छात्राओं को ब्याज दर में रियायत
  • संस्थानों में रजिस्ट्रेशन से पूर्व तत्काल सैद्धांतिक मंजूरी।
  • ईएमआई का भार कम करने के लिए 15 साल तक लंबी पुनर्भुगतान अवधि (मोरेटोरियम को छोड़कर)।
  • ऋण में ट्यूशन फीस, हॉस्टल फीस, किताबों की लागत आदि शामिल होगी।

शिक्षा ऋण के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • छात्र, आवेदक, सह-आवेदक और गारंटर के केवाईसी दस्तावेज़
    • फोटो आईडी (पैन कार्ड/पासपोर्ट/ड्राइविंग लाइसेंस/वोटर आईडी/आधार कार्ड)
    • पते का प्रमाण (पासपोर्ट/ड्राइविंग लाइसेंस/वोटर आईडी/आधार कार्ड/राशनकार्ड/लाइट बिल)
  • माता-पिता/सह-आवेदकों के आय दस्तावेज
  • वेतनभोगी व्यक्तियों के लिए
    • पिछले 2 वर्षों का आईटीआर (यदि कर योग्य आय है) और फॉर्म 16
    • पिछले 3 माह की पे स्लिप
    • पिछले 6 माह का वेतन खाता विवरण
  • व्यवसायी/ स्वनियोजित के लिए दस्तावेज़
    • पिछले 2 वर्षों का आईटीआर
    • आय की गणना के साथ पिछले 2 वर्षों की ऑडिटेड बैलेंस शीट तथा लाभ हानि विवरण
    • पिछले 12 महीनों का व्यवसाय बैंक खाता विवरण
    • कर भुगतान चालान/26एएस
    • व्यवसाय प्रमाण - मालिक - दुकान अधिनियम / ग्रामपंचायत प्रमाण पत्र
    • कृषकों के लिए - जो लोग आयकर रिटर्न दाखिल नहीं करते हैं, तहसीलदार द्वारा जारी आय प्रमाण पत्र, 8ए और सभी 7/12 विवरण सहायक आय प्रमाणों के साथ।
      ब्याज छूट दावे के लिए तहसीलदार का आय प्रमाण पत्र
  • शैक्षणिक योग्यता से संबंधित अन्य दस्तावेज़
    • 10वीं कक्षा की मार्कशीट
    • 12 वीं कक्षा की मार्कशीट
    • सभी सेमेस्टर की डिप्लोमा/डिग्री मार्कशीट
    • अपेक्षित परीक्षा स्कोरकार्ड/ मैरिट आधारित चयन में सीट का प्रमाण प्रक्रिया (भारत में अध्ययन के लिए डीटीई/जेईई स्कोर कार्ड, विदेश में अध्ययन के लिए जीआरई/टीओईएफएल स्कोर कार्ड या समकक्ष अपेक्षित परीक्षा स्कोर कार्ड)
    • संस्थान से फीस संरचना पुष्टिकरण पत्र या I-20 (विदेश में अध्ययन के लिए)
    • पहले से भुगतान की गई फीस की रसीदें
    • लैपटॉप कोटेशन (पाठ्यक्रम आवश्यकता का विशेषतः उल्लेख करती कॉलेज फीस संरचना)
    • यदि छात्र ने शैक्षणिक वर्ष के दौरान गैप लिया है तो अंतराल के लिए एफिडेविट देना होगा
    • यदि लागू हो तो मार्जिन मनी के स्रोत की घोषणा.
    • नौकरी के अवसरों की घोषणा, नौकरी मिलने के बाद अपेक्षित वेतन
    • अधिस्थगन अवधि के दौरान ब्याज के पुनर्भुगतान के विकल्प की घोषणा
    • यदि प्लॉट/घर/फ्लैट को प्रतिभूति के रूप में दिया गया है - नवीनतम सर्च और वैल्युऐशन रिपोर्ट और आवास ऋण चेकलिस्ट के अनुसार संपत्ति से संबंधित सभी दस्तावेज
    • यदि अन्य बैंक/संस्था से ऋण टेकओवर किया गया है, तो खाते के विवरण के साथ मंजूरी पत्र।

शिक्षा ऋण ब्याज दर

शिक्षा ऋण ब्याज दर

बैंक ऑफ महाराष्ट्र आपको मेधावी छात्रों को बहुत कम ईएमआई विकल्पों के साथ उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए वित्तीय सहायता/समर्थन प्रदान करने में मदद करता है। वेबसाइट पर ईएमआई कैलकुलेटर आपके लिए यह काम करता है।
अपनी पात्रता जांचने के लिए अपने दस्तावेज़ अपलोड करें तथा ऋण स्वीकृति प्राप्त करें।


शिक्षा ऋण ब्याज दर

शिक्षा ऋण ब्याज दर

8.10%प्रति वर्ष

ब्याज दर और शुल्क की विस्तृत जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

शिक्षा ऋण ईएमआई कैलकुलेटर

Course Period (Months) *
Loan Amount *
Amount Required in Year 1
Interest Rate ( % P.A ) *
Tenure (Months) *
Moratoriam Period (Months) *
Will you be paying during the study + moratorium period

Total Moratorium:

Calculate
APPLY NOW
* (indicative,actual returns may vary)

शैक्षणिक सब्सिडी योजना

शैक्षणिक सब्सिडी योजना

बैंक ऑफ महाराष्ट्र शिक्षा ऋण के लिए ब्याज सब्सिडी योजना प्रदान करता है, जैसे


  • 1) सेंट्रल सेक्टर ब्याज सब्सिडी योजना

  • 2) पढ़ो परदेश - अल्पसंख्यक समुदायों से संबंधित छात्रों के लिए विदेशी अध्ययन के लिए शैक्षिक ऋण पर ब्याज सब्सिडी की योजना।

  • 3) डॉ. आंबेडकर अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) और आर्थिक रूप से पिछड़ा वर्ग (ईबीसी) के लिए विदेशी अध्ययन के लिए शैक्षिक ऋण पर सेंट्रल सेक्टर ब्याज सब्सिडी योजना


सब्सिडी के विषय में अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

शिक्षा ऋण - अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (एफ.ए.क्यू.)

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

शिक्षा ऋण का उद्देश्य भारत में प्रमुख शैक्षणिक संस्थानों जैसे आईआईएम, आईएसबी, आईआईटी, एनआईटी, एक्सएलआरआई, एमबीबीएस, मेडिकल कॉलेज आदि द्वारा संचालित पाठ्यक्रमों में उच्च अध्ययन/शिक्षा प्राप्त करने के लिए मेधावी छात्र को वित्तीय सहायता/सहयोग प्रदान करना है।

इनके अलावा, यूजीसी द्वारा अनुमोदित विश्वविद्यालयों के अंतर्गत स्नातक पाठ्यक्रमों/कॉलेजों के साथ यूजीसी/सरकार / एआईसीटीई/ एआईबीएमएस/ आईसीएमआर इत्यादि द्वारा अनुमोदित कॉलेजों/विश्वविद्यालयों द्वारा संचालित डिप्लोमा/डिग्री आदि के अन्य पाठ्यक्रम के लिए भी शिक्षा ऋण प्रदान किया जाता है।

विदेश में शिक्षा के लिए, नौकरी उन्मुख व्यावसायिक/तकनीकी/पीजी पाठ्यक्रम/पोस्ट ग्रेजुएशन - एमसीए, एमबीए, एमएस आदि के लिए शिक्षा ऋण प्रदान किया जाता है।

बैंक ऑफ महाराष्ट्र निम्नानुसार तीन प्रकार के शिक्षा ऋण प्रदान करता है:

  • महा स्कॉलर शिक्षा ऋण - भारत में प्रमुख संस्थानों में उच्च अध्ययन के लिए ऋण
  • मॉडल शिक्षा ऋण- मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालयों के लिए भारत और विदेश में उच्च अध्ययन के लिए ऋण
  • महाबैंक कौशल ऋण- कौशल विकास पाठ्यक्रमों के लिए ऋण
  • महा स्कॉलर ओवरसीज शिक्षा ऋण - प्रमुख विदेशी कॉलेजों/विश्वविद्यालयों में पूर्णकालिक नियमित पाठ्यक्रम करने के लिए योग्य/मेधावी छात्रों को ऋण दिया जाता है।

पात्र आवेदकों में भारत और विदेश दोनों में मान्यता प्राप्त संस्थानों में शिक्षा प्राप्त करने के इच्छुक छात्र शामिल हैं। सुनिश्चित प्रवेश प्रस्ताव के साथ, यह ऋण भारतीय नागरिकों के लिए उपलब्ध है।

आपको पूर्ण भरे हुए आवेदन पत्र के साथ निम्नलिखित दस्तावेज प्रस्तुत करने होंगे। जब ऋण संयुक्त रूप से लिया जाता है, तो प्रासंगिक जानकारी अभिभावक और छात्र दोनों से संबंधित होगी।

  • भारत में स्कूल और स्नातक अध्ययन के लिए अंतिम योग्यता परीक्षा की मार्कशीट
  • पाठ्यक्रम में प्रवेश का प्रमाण
  • पाठ्यक्रम व्यय की शेड्यूल
  • 2 पासपोर्ट फोटो
  • उधारकर्ता का पिछले छह महीने का बैंक खाता विवरण
  • आयकर निर्धारण आदेश जो 2 वर्ष से अधिक पुराना न हो
  • उधारकर्ता की आस्तियों व देनदारियों का संक्षिप्त विवरण

अधिक जानकारी के लिए, कृपया "आवश्यक दस्तावेज़" अनुभाग देखें

यदि आप बैंक के ग्राहक नहीं हैं तो आपको अपनी पहचान और निवास का प्रमाण देना होगा।

सह-आवेदक छात्र उधारकर्ता का माता-पिता/प्राकृतिक अभिभावक होना चाहिए। विवाहित व्यक्ति के मामले में, सह-आवेदक पति/पत्नी या माता-पिता/सास- ससुर हो सकते हैं।

  • आईबीए द्वारा तैयार और बाद में हमारे बैंक द्वारा कार्यान्वित “मॉडल शिक्षा ऋण योजना“ के अनुसार, ₹ 7.50 लाख तक के ऋण के लिए किसी संपार्श्विक प्रतिभूति की आवश्यकता नहीं है तथा ₹ 7.50 लाख से अधिक के ऋण के लिए, उधारकर्ताओं से पर्याप्त मार्जिन के साथ स्वीकार्य मूर्त प्रतिभूति पर जोर दिया जाता है।
  • साथ ही, भारत के प्रमुख संस्थानों में प्रवेश लेने वाले छात्रों के लिए हमारे बैंक की "महा स्कॉलर शिक्षा ऋण योजना" के अंतर्गत, ₹ 40.00 लाख तक के ऋण के लिए किसी संपार्श्विक प्रतिभूति की आवश्यकता नहीं है।

प्रमुख संस्थानों के लिए महाबैंक स्कॉलर ऋण के लिए किसी भी ऋण राशि के लिए कोई प्रोसेसिंग शुल्क नहीं है। महाबैंक मॉडल शिक्षा ऋण के लिए, केवल विदेश में पढ़ाई के मामले में ऋण राशि का 0.50% न्यूनतम शुल्क है और यदि उधारकर्ता पाठ्यक्रम पूर्ण करता है तो यह रिफंडेबल है।

शिक्षा ऋण को 15 वर्ष की अवधि के लिए बढ़ाया जा सकता है। पुनर्भुगतान, पाठ्यक्रम अवधि के एक वर्ष पश्चात या नौकरी मिलने के छह महीने बाद, जो भी पहले हो, शुरू हो जाएगा।

बैंक ऑफ महाराष्ट्र शिक्षा ऋण में ट्यूशन फीस, हॉस्टल फीस, किताबों की लागत, लैपटॉप/कंप्यूटर लागत आदि जैसे विभिन्न व्यय शामिल है।

महा स्कॉलर शिक्षा ऋण के लिए, सूची 'ए' के अंतर्गत सूचीबद्ध प्रमुख संस्थानों के लिए कोई मार्जिन आवश्यक नहीं है। सूची 'बी' और 'सी' श्रेणी के संस्थानों के लिए, ऋण राशि का न्यूनतम 5% मार्जिन चाहिए । मॉडल शिक्षा ऋण के अंतर्गत रु. 4 लाख, कोई मार्जिन आवश्यक नहीं है। 4 लाख से ऊपर, भारत में अध्ययन के लिए 5% और विदेश में अध्ययन के लिए 15% मार्जिन की आवश्यकता है.

हां, महा स्कॉलर एजुकेशन लोन के अंतर्गत छात्राओं को ब्याज दर में 0.10% की छूट मिलती है। हालाँकि, मॉडल शिक्षा ऋण योजना के अंतर्गत, बैंक निम्न के लिए अधिकतम 0.50% तक ब्याज छूट प्रदान करता है

  • छात्राओं के लिए 0.50% की छूट
  • हमारे वर्तमान आवास ऋण उधारकर्ता को 0.50% की रियायत
  • मेधावी छात्रों के लिए 0.25% तक

ऑफ़लाइन आवेदन फॉर्म डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें