फोटो गैलरी

श्री प्रकाश जावडेकर सूचना व प्रसारण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), पर्यावरण, वन व जलवायु परिवर्तन (स्वतंत्र प्रभार) और संसदीय मामलों के मंत्री द्वारा बैंक ऑफ महाराष्ट्र को भेंट

बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने 24 और 25 दिसंबर 2012 को बैंकॉन 2012 की मेजबानी की

डॉ. के. सी. चक्रवर्ती, उप गर्वनर, भारतीय रिज़र्व बैंक महाबैंक ग्राम सेवा केन्द्रों का उदघाटन करते हैं

वित्त मंत्री श्री प्रणव मुखर्जी ने केन्द्रीय कार्यालय को भेंट दी

दिल्ली में 76 वाँ संस्थापन दिन समारोह

पुणे में 79 वां वर्धापन दिवस कार्यक्रम

बैंक द्वारा 8 फरवरी 2014 को प्रधान कार्यालय में कर्मचारी प्रतिभा दिवस का आयोजन

 
प्रेस से मिलना एस. एल.बी.सी. बैठकें शाखा शुभारंभ पुरस्कार अन्य प्रसंग
 
बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने दिनांक 21.06.2013 को पुणे में 119वीं एसएलबीसी बैठक का आयोजन किया

फोटो में बाएं से दाएं – श्रीमती सोनाली वायंगणकर, प्रबंध निदेशक, महिला आर्थिक विकास महामंडल, श्रीमती फूलन कुमार, क्षेत्रीय निदेशक नागपुर, भा.रि. बैं, श्री जे. बी. भोरिया, क्षेत्रीय निदेशक, महाराष्ट्र व गोवा, भारिबैं, अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक बैंक ऑफ महाराष्ट्र तथा एसएलबीसी महाराष्ट्र के अध्यक्ष श्री नरेन्द्र सिंह, महाप्रबंधक प्राथमिकता, बैंक ऑफ महाराष्ट्र तथा एसएलबीसी महाराष्ट्र के संयोजक, श्री ए.ए. मगदुम, डॉ. एस. सरवनवेल, मुख्य महाप्रबंधक, नाबार्ड और श्री श्रवण हर्डीकर, सीईओ, महाराष्ट्र राज्य आजीविका मिशन


बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने पुणे में 116वीं एसएलबीसी बैठक का आयोजन किया .

फोटो में बाएं से दाएं – श्री एम.वी. अशोक, मुख्य महाप्रबंधक, नाबार्ड, श्रीमती फूलन कुमार, क्षेत्रीय निदेशक नागपुर, भा.रि. बैं, श्री जे. बी. भोरिया, क्षेत्रीय निदेशक, महाराष्ट्र व गोवा, भारिबैं, अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक बैंक ऑफ महाराष्ट्र तथा  एसएलबीसी महाराष्ट्र के अध्यक्ष श्री नरेन्द्र सिंह, श्री राजगोपाल देवडा, सहकारिता सचिव, महाराष्ट्र सरकार, श्री सीवीआर राजेन्द्रन, कार्यपालक निदेशक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र तथा  श्री पी. बी. अंभोरे, महाप्रबंधक, प्राथमिकता, बैंक ऑफ महाराष्ट्र और एसएलबीसी महाराष्ट्र के संयोजक, 


बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने पुणे में 115वीं एसएलबीसी बैठक का आयोजन किया

फोटो में बाएं से दाएं – श्री संजय आर्य, महाप्रबंधक, ऋण प्राथमिकता व मिड कार्पोरेट - एसएलबीसी महाराष्ट्र के संयोजक, श्री राजगोपाल देवडा, सहकारिता सचिव, महाराष्ट्र सरकार, श्री संदीप कुमार, निदेशक, (वि.स.) वित्त मंत्रालय, भारत सरकार, नई दिल्ली, अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक बैंक ऑफ महाराष्ट्र तथा एसएलबीसी महाराष्ट्र के अध्यक्ष श्री नरेन्द्र सिंह, श्री जे. बी. भोरिया, क्षेत्रीय निदेशक, महाराष्ट्र व गोवा, भारिबैं, श्री एम.वी. अशोक, मुख्य महाप्रबंधक, नाबार्ड

श्री ए. एस. भट्ट्टाचार्य, अध्यक्ष, एस. एल. बी. सी. – महाराष्ट्र और प्रबंध निदेशक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र 21 अक्तूबर, 2011 को मुम्बई में सरकार द्वारा प्रायोजित योजनाओं के कार्यान्वयन की पुनरीक्षा के लिए राज्य स्तरीय पुनरीक्षा बैठक (SLRM) के दौरान सहभागियों को संबोधित करते हुए
फोटो में दिखाई दे रहे हैं (बाएँ से दाएँ) श्री संजय आर्य, महाप्रबंधक – ऋण प्राथमिकता, बैं. ऑ. म. श्री एम. व्ही. अशोक, सी. जी. एम., नाबार्ड, एम. आर. ओ., पुणे, सुश्री पी. कुमार और श्री जे. बी. भोरिया क्षेत्रीय निदेशक, भा. रि. बैं., क्रमशः नागपुर और मुम्बई, श्री ए. एस. भट्ट्टाचार्य, अध्यक्ष, श्री व्ही. गिरिराज, प्रधान सचिव, इ. जी. एस. और ड्ब्ल्यू. सी., जी. ओ. एम. और श्री सुधीर ठाकरे, सचिव आर. डी. डी., जी. ओ. एम.
एस. एल. बी. सी. ने विशेष बैठक चलाई
महाराष्ट्र एस. एल. बी. सी. ने मुम्बई में विभिन्न सरकार द्वारा प्रायोजित योजनाओं के कार्यान्वयन की पुनरीक्षा के लिए विशेष बैठक आयोजित की। बैठक की अध्यक्षता अनुप शंकर भट्टाचार्य, अध्यक्ष, एस. एल. बी. सी. और अध्यक्ष तथा प्रबंध निदेशक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने की। इसमें प्रधान सचिव, आयोजना, सीताराम कुंटे, प्रधान सचिव गृह निर्माण, गौतम चैटर्जी, प्रधान सचिव, इ. जी. एस., व्ही. गिरिराज, सचिव, ग्रामीण विकास, सुधीर ठाकरे, सचिव सहकार, राजगोपाल देवरा और महाराष्ट्र सरकार के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।
राजभाषा पर राज्य स्तरीय बैंकर समिति की बैठक

बैंक का व्यवसाय बढ़ाने में हिन्दी की महत्त्त्वपूर्ण भूमिका रही है।
बैं. ऑ. म. विशेष एस. एल. बी. सी. आयोजित करता है – बैंक ने महाराष्ट्र में 85% फसल ऋण उधारदान हासिल किया है। 20-09-2011 को मुम्बई में संपन्न 112 वीं राज्य स्तरीय बैंकर समिति की बैठक में श्री ए. एस. भट्ट्टाचार्य, अ. और प्र. नि., बैंक ऑफ महाराष्ट्र (मध्य में) और श्री रत्नाकर गायकवाड, मुख्य सचिव, महाराष्ट्र सरकार (बाएँ से 4थे) है। 10 ज़िलों के अ. ज़ि. प्र.; जिन्होंने 100 % खरिफ उधारदान का लक्ष्य हासिल किया है; उन्हें मुख्य सचिव और अ.और प्र. नि., बैंक ऑफ महाराष्ट्र के हाथों सम्मानित किया गया था। यह एस. एल. बी. सी. संयोजक के रूप में बैं. ऑ. म. द्वारा की गई असाधारण पहल है।
दिनांक 14 जून 2011 को मुंबई की ताज होटल में राज्‍य स्‍तरीय बैंकर समिति (एसएलबीसी) की 111वीं बैठक का आयोजन किया गया । (बाएं से दाएं) श्री सीताराम कुंटे, प्रधान सचिव, आयोजना, महाराष्‍ट्र शासन, श्री सुधीर श्रीवास्‍तव, प्रधान सचिव, वित्त, महाराष्‍ट्र शासन, श्री रत्‍नाकर गायकवाड, मुख्‍य सचिव, महाराष्‍ट्र शासन, डॉ. के.सी. चक्रवर्ती, उप गवर्नर, भारतीय रिज़र्व बैंक, श्री ए.एस. भट्टाचार्य, अध्‍यक्ष और प्रबंध निदेशक, बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र तथा संयोजक, एसएलबीसी, डॉ. आलोक पांडे, निदेशक, वित्तीय समावेशन, भारत सरकार, श्री एम. शेषाद्री, कार्यपालक निदेशक, बैंक ऑफ इंडिया तथा श्री एम.जी. संघवी, कार्यपालक निदेशक, बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र ।
दिनांक 08 जून 2011 को राज्‍य स्‍तरीय बैंकर्स समिति, महाराष्‍ट्र की विशेष बैठक का आयोजन किया गया जिसके अंतर्गत चालू खरीफ मौसम के दौरान कृषि ऋणों हेतु ऋण प्रवाह बढ़ाने के लिए विभिन्‍न रणनीतियों पर परिचर्चा की गई । ( दाएं से बाएं ) श्री राधाकृष्‍ण विखे पाटील, कृषि और विपणन मंत्री, महाराष्‍ट्र राज्‍य, श्री ए. के. जैन, मुख्‍यमंत्री के मुख्‍य सचिव, श्री पृथ्‍वीराज चव्‍हाण, मुख्‍यमंत्री, महाराष्‍ट्र, डॉ. के. सी. चक्रबर्ती, उप गवर्नर, भारतीय रिज़र्व बैंक, श्री ए. एस. भट्टाचार्य, अध्‍यक्ष और प्रबंध निदेशक, बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र ।

श्री हर्षवर्धन पाटील, सहकारिता और संसदीय कामकाज मंत्री, महाराष्‍ट्र शासन, मे. टी.एफ. ठेक्‍केकारा, अतिरिक्‍त मुख्‍य सचिव, अल्‍पसंख्‍यक विकास विभाग, श्री एस. के. गोयल, प्रधान सचिव, कृषि, श्री एस. के. श्रीवास्‍तव, प्रधान सचिव, आयोजना, श्री उमेश सारंगी, अतिरिक्‍त मुख्‍य सचिव, डॉ. प्रकाश बक्षी, अध्‍यक्ष, नाबार्ड, श्री एम. वी. नायर, अध्‍यक्ष और प्रबंध निदेशक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, श्री एम. डी. मल्‍ल्‍या, अध्‍यक्ष और प्रबंध निदेशक, बैंक ऑफ बड़ौदा और अध्‍यक्ष, भारतीय बैंक संघ, श्री डी.एल. रावळ, अध्‍यक्ष और प्रबंध निदेशक, देना बैंक, विभिन्‍न बैंकों से आए कार्यपालक निदेशक, भारतीय रिज़र्व बैक के वरिष्‍ठ अधिकारी, नाबार्ड और अन्‍य बैंक और सरकार के वरिष्‍ठ अधिकारियों ने भी विचार-विमर्श में भाग लिया ।
23.12.2010 को 109 वीं एस. एल. बी. सी. बैठक सह्याद्रि गेस्ट हाउस, मालबार हिल, मुंबई में हुई. ( बाएं से दाएं ) महाप्रबंधक, ऋण प्राथमिकता, बैंक ऑफ महाराष्ट्र तथा संयोजक एस. एल. बी. सी. श्री वी. के. गुप्ता; प्रधान सचिव, आयोजना, महाराष्ट्र सरकार श्री सुधीर श्रीवास्तव; बैंक ऑफ महाराष्ट्र के अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक श्री अनूप शंकर भट्टाचार्य; अतिरिक्त मुख्य सचिव, महाराष्ट्र सरकार श्री उमेश सारंगी; भारतीय रिज़र्व बैंक, मुंबई व गोवा के क्षेत्रीय निदेशक श्री जे. बी. भोरिया; भारतीय रिज़र्व बैंक, नागपुर की क्षेत्रीय निदेशक सुश्री फूलन कुमार तथा सीजीएम नाबार्ड श्री पी. सतीश.
23.12.2010 को 109.वीं एस. एल. बी. सी. बैठक मुंबई में हुई. आईआईबीएफ द्वारा प्रकाशित पुस्तक “inclusive growth thro' business correspondent” का विमोचन करते हुए बैंक ऑफ महाराष्ट्र के अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक तथा एस. एल. बी. सी. के अध्यक्ष श्री अनूप शंकर भट्टाचार्य; आईआईबीएफ के सीईओ श्री आर. भास्करन तथा महाप्रबंधक, ऋण प्राथमिकता, बैंक ऑफ महाराष्ट्र श्री वी. के. गुप्ता; प्रधान सचिव, आयोजना, महाराष्ट्र सरकार श्री सुधीर श्रीवास्तव; बैंक ऑफ महाराष्ट्र के अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक श्री अनूप शंकर भट्टाचार्य; अतिरिक्त मुख्य सचिव, महाराष्ट्र सरकार श्री उमेश सारंगी; भारतीय रिज़र्व बैंक, मुंबई व गोवा के क्षेत्रीय निदेशक श्री जे. बी. भोरिया; भारतीय रिज़र्व बैंक, नागपुर की क्षेत्रीय निदेशक सुश्री फूलन कुमार.
23 दिसंबर 2010 को मुम्बई में सह्याद्री गेस्ट हाऊस, मलबार हिल में 109 वीं राज्य स्तरीय बैंकर समिति की बैठक संपन्न हुई। उसमें निर्णय लिया गया था कि 2000 से ऊपर जनसंख्या वाले देहातों को बैंकिंग सुविधाएँ देने हेतु मार्च 2012 तक वित्तीय समावेश योजना कार्यान्वित करना।
(बाएँ से दाएँ) श्री वी.के.गुप्ता, महाप्रबंधक, ऋण प्राथमिकता, बैं.ऑ.म. और संयोजक, एस.एल.बी.सी., श्री सुधीर श्रीवास्तव, प्र.सचिव, आयोजना, महाराष्ट्र सरकार, श्री ए.एस.भट्ट्टाचार्य, अ.और प्र.नि., बैंक ऑफ महाराष्ट्र, श्री उमेश सरंगी, अतिरिक्त मुख्य सचिव, महाराष्ट्र सरकार, श्री जे.बी.भोरिया क्षेत्रीय निदेशक, मुम्बई और गोवा, भा.रि.बैं., सुश्री फुलन कुमार, क्षेत्रीय निदेशक, नागपुर, भा.रि.बैं. और श्री पी.सतीश, सी.जी.एम., नाबार्ड।
बैंक ऑफ महाराष्ट्र के संयोजकत्व में एस.एल.बी.सी. की 108 वीं बैठक दि.6 सितंबर 2010 को सह्याद्री गेस्ट हाउस, मुम्बई में संपन्न हुई थी। दिखाई दे रहे हैं बाएँ से दाएँ – श्री किशोर वझे, महाप्रबंधक, आयोजना और संयोजक, एस.एल.बी.सी.-महाराष्ट्र, श्री सुधीर श्रीवास्तव, मुख्य सचिव, आयोजना और संस्थागत वित्त (अग्रणी बैंक), महाराष्ट्र सरकार, श्री एम.जी.संघवी, कार्यपालक निदेशक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, श्री जे.पी.डांगे, मुख्य सचिव, महाराष्ट्र सरकार, श्री अलेन सी.ए. पिरेरा, अध्यक्ष, बैंक ऑफ महाराष्ट्र और अध्यक्ष, एस.एल.बी.सी.-महाराष्ट्र, श्री जे.बी.भोरीया, क्षेत्रीय निदेशक, महाराष्ट्र और गोवा, भा.रि.बैंक, मुम्बई, श्रीमती फूलन कुमार, क्षेत्रीय निदेशक, भा.रि.बैंक, नागपुर, श्री पी.सतीश, मुख्य महाप्रबंधक, नाबार्ड, पुणे।
Releasing the Statistical Booklet for the year 2009-10 in the the meeting of the 106 th SLBC, convened by Bank of Maharashtra on 13 th January, 2010. Seen in the photo from L - R Shri Ajay Banerjee, General Manager, Planning, Dev and CS, Shri M. G. Sanghvi, Executive Director, Dr. S. K. Goel (Principal Secretary, Marketing and Cooperation, Government of Maharashtra ), Shri Allen C. A. Pereira, Chairman and Managing Director, Shri H. N. Dhanorkar, Asst. General Manager, Rural Planning and Credit Dept, RBI, M/s Phulen Kumar (Regional Director, RBI, Nagpur), Dr. P. Satish, Chief General Manager, NABARD.
 
अपने प्‍लैटिनम जुबिली वर्ष में बैंक की पहल के रूप में 75 गांवों को गोद लेना ।














































































































































महत्‍वपूर्ण : बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र फोन कॉल/ई मेल/एसएमएस के माध्‍यम से किसी भी उद्देश्‍य के लिए बैंक खाते के ब्‍यौरों की मांग कभी नहीं करता।

बैंक अपने सभी ग्राहकों से अपील करता है कि ऐसे फोन कॉल/ ई मेल/एसएमएस का उत्‍तर न दें और किसी भी उद्देश्‍य से किसी से भी अपने बैंक खाते के ब्‍यौरे साझा न करे। किसी से न भी अपने डेबिट/क्रेडिट कार्ड का सीवीवी/प्रिंट साझा न करे।