अपने बैंक को जानिए
इतिहास मील के पत्थर दर्शन मिशन सामाजिक वचनबध्दता

प्रारंभ

निम्नलिखित के नेतृत्व में हुआ बैंक का सफर

प्रा. व्ही. जी. काळे (1936 से 1943 तक)
श्री डी. के. साठे (1943 से 1953 तक)
श्री व्ही. पी. वर्दे (1954 से 1966 तक)
श्री एस. एल. किर्लोस्कर (1966 से 1967 तक)
श्री सी. व्ही. जोग (1967 से 1973 तक)
श्री व्ही. एम. भिडे (1973 से 1977 तक)
डॉ. एम. व्ही. पटवर्धन (1977 से 1983 तक)
श्री पी. एस. देशपांडे (1983 से 1989 तक)
श्री टी. के. के. भगवत (1989 से 1993 तक)
श्री पी. बी. कुलकर्णी (1993 से 1995 तक)
श्री एस. ए. कामथ (1995 से 1997 तक)
श्री टी. एस. राघवन (1997 से 1998 तक)
श्री एम. एम. वैश (1998 से 2000 तक)
श्री एस. सी. बसु (2000 से 2005 तक)
श्री एम. डी. मल्या (2006 से 2008 तक)
श्री अलेन सी. ए. पिरेरा (2008 से 2010 तक)
श्री. नरेंद्र सिंह (2012 से 2013 तक)
Shri.Sushil Muhnot (2013)
अंतिम अद्यतन तारीख - 29-09-10
Maharashtra Bank - One Family One Bank
“Direct Selling Agent” for Housing Loan
उद्यमी मित्र
एनआरआई ग्राहक ध्यान दें
सीवीसी द्वारा सत्यनिष्ठा प्रतिज्ञा

User Manual - UPI
क्या आपका खाता "अपने ग्राहक को जाने" ( केवायसी ) अनुपालन युक्त है?
Locate Branch/ATM
Bank's Willful Defaulters
Complaints / Grievances / Suggestions
Revised Marginal Cost of Funds Based Lending Rate (MCLR) with effect from 07.03.2018

Press Release For the Quarter and Nine months ended 31st December 2017

Rupay Debit Card Offers

01.02.2016 की अधिसूचना के सेवा प्रभारों में 01.08.2017 से संशोधन

01.07.2017 से एसएमएस प्रभार

अंतरराष्ट्रीय डेबिट कार्ड के बार-बार पूछे जानेवाले प्रश्न

थोड़ी सी अतिरिक्त सावधानी आपके ऑनलाईन संव्यवहारों को अधिक सुरक्षित करती है

खाता पोर्टेबिलिटी: बैंक में एक शाखा से दूसरी शाखा में खाते का स्थानांतरण

ग्राहकों के प्रति बैंक की वचनबद्धता का कूट

पीपीएफ खाता खोलने के लिए प्राधिकृत शाखाओं की सूची

भारिबैं मौद्रिक संग्रहालय – भारतीय रिज़र्व बैंक

संग्रहालय के संबंध में सामान्य जानकारी
विशेष शाखा की सूची
महत्‍वपूर्ण : बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र फोन कॉल/ई मेल/एसएमएस के माध्‍यम से किसी भी उद्देश्‍य के लिए बैंक खाते के ब्‍यौरों की मांग कभी नहीं करता।

बैंक अपने सभी ग्राहकों से अपील करता है कि ऐसे फोन कॉल/ ई मेल/एसएमएस का उत्‍तर न दें और किसी भी उद्देश्‍य से किसी से भी अपने बैंक खाते के ब्‍यौरे साझा न करे। किसी से न भी अपने डेबिट/क्रेडिट कार्ड का सीवीवी/प्रिंट साझा न करे।