Last Visited Page  

महासरस्वती योजना

ब्यौरेविवरण
पात्रता6 महीने या उससे अधिक आयु के अवयस्क/ छात्र
  • अवयस्क/ 10 साल की आयु वाला एकल छात्र
  • माता-पिता या अभिभावक के साथ मिलकर अवयस्क/ छात्र
  • अवयस्क छात्र की ओर से अभिभावक/ अभिभावक द्वारा
    (सभी मामलों में, खाते खोलते समय केवाईसी अनुपालन होना चाहिए)
मासिक जमाग्रामीण क्षेत्र में न्‍यूनतम राशि 50 रुपये और 10 के गुणांक में जबकि शहरी क्षेत्र में न्‍यूनतम राशि 100 रुपये और 10 के गुणांक में
अवधिन्यूनतम 36 महीने और अधिकतम 120 महीने
ब्याज की दरइस योजना पर नियमित जमा योजना की भांति ब्याज दर लगेगी। चूंकि यह योजना आवर्ती जमा का एक प्रकार है, इसलिए महासरस्‍वती योजना पर कोई टीडीएस लागू नहीं होगा।
अतिरिक्त सुविधाएं
  • रुपये 50000 / - का नि:शुल्क दुर्घटना बीमा कवर - जमा की परिपक्वता तक उपलब्ध कवर, किश्तों के नियमित भुगतान के अधीन,
  • भुगतान की राशि तभी देय होगी जब व्‍यक्ति की मृत्‍यु होती है या दुर्घटना में स्‍थायी पूर्ण विकलांगता हो जाती है
  • शिक्षण ऋण में अधिमान्य उपचार - सामान्य महासरस्‍वती खाताधारकों के लिए 0.25% तक की ब्याज दर में रियायत, गरीबी रेखा के नीचे (बीपीएल) लाभार्थियों के लिए 0.50% रियायत
  • नि:शुल्क वीज़ा अंतर्राष्ट्रीय एटीएम कार्ड (ग्राहक को एक युवा योजना खाता खोलना होगा और उसे मुक्त अंतर्राष्ट्रीय वीज़ा एटीएम कम डेबिट कार्ड का लाभ मिलेगा।)
जमा की परिपक्वताजमाराशि का भुगतान परिपक्वता की तारीख पर चुकाया जा सकता है, जब ब्याज के साथ-साथ आखिरी किस्त के श्रेय के बाद सहमति अवधि पूरी हो या एक महीने बाद।
समयपूर्व निकासीनियमित धन जमा योजना के अनुसार समयपूर्व निकासी की अनुमति दी जा सकती है, और नियम के तहत

गैर भुगतान / किस्त के विलंबित भुगतान के लिए जुर्माना :

महासरस्‍वती किस्त के देर से भुगतान का जुर्माना खाता खोलने के समय आवर्ती जमाराशियों के लिए लागू केंद्रीय कार्यालय के दिशानिर्देशों के अनुसार किया जाएगा। यह जुर्माना राशि ला/हा सामान्य ब्याज खाते में जमा की जाएगी।

महासरसवती खाते का समापन:
खाताधारक को परिपक्वता मूल्य का भुगतान करके परिपक्वता पर महासरस्वती खाता बंद किया जा सकता है। उसकी मृत्यु होने पर, कानूनी उत्तराधिकारियों और / या नामांकित व्यक्ति को अन्य औपचारिकताओं के अधीन भुगतान किया जाएगा जो दावों के निपटान / भुगतान के तहत आवश्यक हैं।

पॉलिसी जारी करना
पुणे में यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड का नामित कार्यालय, बैंक को एक मास्टर पॉलिसी जारी करेगा। बैंक की शाखाएं खाते के पास बुक/ स्टेटमेंट जारी करने के समय ऐसे खाताधारक को बीमा प्रमाणपत्र जारी करने के लिए अधिकृत होंगी।