Last Visited Page  

सोवरेन गोल्ड बॉन्ड योजना 2015-16

सोवरेन गोल्ड बॉन्ड:

सोवरेन गोल्ड बॉन्ड एक सरकारी प्रतिभूति है जो सोने के ग्राम में मूल्यवर्गित गई है। सोवरेन गोल्ड बॉन्ड योजना नवंबर 2015 में सरकार द्वारा शुरू की गई थी। यह भौतिक सोने का एक विकल्प है। स्कीम खुलने पर निवेशक इन बॉन्ड में निवेश करते हैं और इसे परिपक्वता पर रीडीम किया जाता है। भारतीय रिजर्व बैंक भारत सरकार की ओर से सोवरेन गोल्ड बॉन्ड योजना का प्रबंधन करता है।

बैंक ऑफ महाराष्ट्र ग्राहकों को अपनी सभी शाखाओं के माध्यम से सोवरेन गोल्ड बॉन्ड योजना में निवेश करने का प्रस्ताव प्रदान करता है।

 

विशेषताएं:

  • भारत सरकार की ओर से भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा जारी किया जाना।
  • बॉण्‍डों की बिक्री निवासी व्‍यक्ति, हिंदू अविभक्‍त परिवार, न्‍यास, विश्‍वविद्यालय, धर्मार्थ संस्थाओं तक सीमित है।
  • बांडों को 1 ग्राम की मूल इकाई के साथ सोने के ग्राम(मों) के गुणजों में मूल्यवर्गित किया जाएगा।
  • बॉन्ड की अवधि 5वें वर्ष के बाद एक्जिट विकल्प के साथ 8 साल के लिए होगी, जिसे अगले ब्याज भुगतान की तारीखों पर लागू किया जाएगा।
  • न्यूनतम अनुमेय निवेश 1 ग्राम सोने का होगा।
  • सदस्यता की अधिकतम सीमा समय-समय पर सरकार द्वारा अधिसूचित प्रति वित्त वर्ष (अप्रैल-मार्च) व्यक्ति के लिए 4 किग्रा, HUF के लिए 4 किग्रा और ट्रस्टों और ऐसी इकाईयों के लिए 20 किग्रा होगी। इस आशय की एक स्व-घोषणा प्राप्त की जाएगी। वार्षिक सीलिंग में सरकार द्वारा प्रारंभिक जारीकरण के दौरान और जो द्वितीयक बाजार से खरीदे गए अलग-अलग ट्रेंच के अंतर्गत सब्सक्राइब्ड बॉन्ड शामिल होंगे।
  • संयुक्त होल्डिंग के मामले में, 4 किग्रा की निवेश सीमा केवल पहले आवेदक पर लागू होगी।
  • नकद भुगतान (अधिकतम रु.20,000 तक) या डिमांड ड्राफ्ट या चेक या इलेक्ट्रॉनिक बैंकिंग के माध्यम से बांडों का भुगतान होगा।
  • गोल्ड बांड को जीएस अधिनियम, 2006 के अंतर्गत भारत सरकार स्टॉक के रूप में जारी किया जाएगा। निवेशकों को इस के लिए होल्डिंग प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा। बॉन्ड डीमैट रूप में रूपांतरण के लिए पात्र हैं।
  • मोचन मूल्य भारतीय रुपए में होगा, जो कि आईबीजेए लिमिटेड द्वारा प्रकाशित पिछले 3 कार्य दिवसों के 999 शुद्धता वाले सोने के क्लोजिंग भाव के सामान्य औसत के आधार पर होगा।
  • निवेशकों को प्रतिवर्ष 2.50 प्रतिशत की निर्धारित दर पर प्रतिपूर्ति की जाएगी, जो नाममात्र मूल्य पर अर्धवार्षिक रूप से देय होगा।
  • अपने ग्राहक को जानिए (केवाईसी) मानदंड भौतिक सोने की खरीद के लिए मानदंडों के समान होंगे। वोटर आईडी, आधार कार्ड/ पैन या टैन/ पासपोर्ट जैसे केवाईसी दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। प्रत्येक आवेदन पर व्यक्तियों और अन्य संस्थाओं को आयकर विभाग द्वारा जारी किए गए 'पैन नंबर' अवश्य होना चाहिए।
  • गोल्ड बांड पर ब्याज आयकर अधिनियम, 1961 (1961 का 43) के प्रावधान के अनुसार कर योग्य होगा। किसी व्यक्ति को SGB के रिडिमशन पर होने वाले पूंजीगत लाभ कर में छूट दी गई है। बांड के हस्तांतरण पर किसी भी व्यक्ति को होने वाले दीर्घकालिक पूंजीगत लाभ को सूचकांक लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • बॉन्ड स्टॉक एक्सचेंजों में व्यापार योग्य होंगे।

नीचे निर्दिष्ट कैलेंडर के अनुसार अक्टूबर 2020 से मार्च 2021 तक सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड छह ट्रेंच में जारी किए जाएंगे :

क्र.

ट्रेंच

अंशदान का दिनांक

जारीकरण दिनांक

1.

2020-21 Series VII

अक्तूबर 12 - 16, 2020

अक्तूबर 20, 2020

2.

2020-21 Series VIII

नवंबर 09 - 13, 2020

नवंबर 18, 2020

3.

2020-21 Series IX

दिसंबर 28 2020 - जनवरी 01, 2021

जनवरी 05, 2021

4.

2020-21 Series X

जनवरी 11-15, 2021

जनवरी 19, 2021

5.

2020-21 Series XI

फरवरी 01- 05, 2021

फरवरी 09, 2021

6.

2020-21 Series XII

मार्च 01- 05, 2021

मार्च  09, 2021