सामाजिक वचनबध्दता –

Bank of Maharashtra & staff together donate Rs. 21 Lakhs to Naam Foundation.
Shri. Narendra Kabra, General Manager, IT & Sudhakar Dhodapkar, with Suresh Nangare from Retirees of Bank of Maharashtra presented two cheques worth Rs. 21 lakhs to NAAM foundation at Bank of Maharashtra’s head office at Lokmangal, Pune. General managers of the Bank Shri Rajkiran Bhoir, M. C. Kulkarni, and Manoj Biswal were present on the occasion. The foundation started by Nana Patekar and Makarand Anaspure, works towards the betterment of farmers in the drought-prone areas of Marathwada and Vidarbh in the Maharashtra.

 

Bank of Maharashtra has donated Rs. 10,00,000/- (Ten Lakhs) to “NATIONAL SPORT’S DEVELOPMENT FUND” by the hands of Executive Director Sh. R. K. Gupta. Cheque was handed over to Sh. Rajiv Yadav, Secretary Sports. Zonal Head, Delhi Zone Sh. C. K. Verma was also present in the function.बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र ने राष्‍ट्रीय खेल विकास निधि को रु.10,00,000/- (रुपए दस लाख) का अंशदान दिया। बैंक के कार्यपालक निदेशक श्री आर.के. गुप्‍ता ने खेल सचिव श्री राजीव यादव को चेक प्रदान किया। इस कार्यक्रम में दिल्‍ली अंचल के अंचल प्रमुख श्री के.सी. वर्मा भी उपस्थित थे।

 

Chairman & Managing Director of Bank of Maharashtra Shri S. Muhnot and Executive Diretcor Shri R. K. Gupta has handed over the cheques of Rs 1.25 crore to Hon’ble Finance Minister Shri Arun Jaitely as CSR contribution under Swatch Bharat Kosh and Prime Minister Relief Fund on 3rd June 2015बैंक ऑफ महाराष्ट्र के अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक श्री एस. मुहनोत तथा कार्यपालक निदेशक श्री आर. के. गुप्ता ने दिनांक 03 जून 2015 को अपनी निगमित सामाजिक प्रतिबद्धता के रूप में प्रधानमंत्री राहत कोष व स्वच्छ भारत कोष के अंतर्गत रु.1.25 करोड़ का चेक माननीय वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली को प्रदान किया।

 

बैंक ऑफ महाराष्ट्र द्वारा निगमित सामाजिक दायित्व गतिविधि के अंतर्गत मालिन गांव में भोजन, पानी और मेडिकल किट वितरित किए गए।
फोटो में :
श्री आर. के. गुप्ता, कार्यपालक निदेशक (दाएं से चौथे) तथा श्री एस. भरतकुमार, महाप्रबंधक, संसाधन आयोजना (बाएं से तीसरे) बैंक ऑफ महाराष्ट्र द्वारा मालीन गांव हेतु दी गई राहत सामग्री वाले वाहन को झंडा दिखाते हुए।

 

बैंक ऑफ महाराष्ट्र, महाराष्ट्र साहित्य परिषद द्वारा आयोजित 87वें अखिल भारतीय मराठी सम्मेलन, 2014 को प्रायोजित कर रहा है। बैंक के कार्यपालक निदेशक श्री आर. आत्माराम ने अध्यक्ष श्री विजय कोलथे को रु.3 लाख (तीन लाख रुपए) का चेक बतौर प्रायोजित राशि सौंपा।

 

बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने श्री अपंग विकास मंडल, सासवड को रु.2.00 लाख का अंशदान दिया। यह मंडल दिवे, जिला पुणे में जीवन वर्धिनी मतिमंद निवासी विद्यालय के नाम से विशेष बच्चों के लिए एक आवासीय विद्यालय चलाता है। अंशदान की राशि का उपयोग शाला हेतु भवन के निर्माण के लिए किया जाएगा।
फोटो में – बाएं से दाएं – श्री बालासाहेब झेंडे, संस्थापक, श्री अपंग विकास मंडल, सासवड, श्री शशीकांत मुकिम, शाखा प्रबंधक सासवड शाखा, श्री एस. भरतकुमार, महाप्रबंधक-आयोजना बैंक ऑफ महाराष्ट्र, श्री संजय रुद्र, अंचल प्रबंधक, पुणे पूर्व अंचल बैंक ऑफ महाराष्ट्र

 

बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने सूखा राहत के लिए मुख्यमंत्री राहत निधि (सूखा – 2013) हेतु रु. 251.00 लाख का अंशदान दिया
फोटो में (बाएं से दाएं) – श्री एस. भरतकुमार, महाप्रबंधक, आयोजना, श्री नरेन्द्र सिंह, अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, श्री पृथ्वीराज चव्हाण, माननीय मुख्यमंत्री, महाराष्ट्र, श्री पी.एम. खान, महाप्रबंधक, मुंबई शहर अंचल

अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक श्री नरेन्द्र सिंह तथा कार्यपालक निदेशक श्री सी.वीआर. राजेन्द्रन महाबैंक मेधावी छात्रवृत्ति अवार्ड प्राप्त दो छात्राओं सुश्री पायल विलास चवट (वरवंद, जिला पुणे) तथा सुश्री ईशा अनिरूद्ध पाटनकर, जिन्होने क्रमशः 100% तथा 98.4% अंक प्राप्त किए, तथा उनके माता-पिता को सम्मानित करते हुए.

लोणी (वरूड) शाखा, अमरावती अंचल के शाखा प्रबंधक द्वारा सीएसआर गतिविधि के भाग के रूप में जिला परिषद गर्ल्स प्राइमरी स्कूल, येवदा को सीलिंग फैन प्रदान किया गया. बैंक ने 551 सरकारी प्राथमिक शालाओं में स्वच्छता तथा मूलभूत सुविधाओं में सुधार के लिए रु.15000/- का अंशदान दिया.


4- सीएसआर गतिविधि के अंतर्गत जिला बाराबंकी, उत्तर प्रदेश के लिए प्रदत्त सोलर स्ट्रीट लाईट .





किसानों के लाभ हेतु हडपसर और भिगवण के बैंक के ग्रामीण विकास केन्द्र; भूमि परियोजना, खारी मिट्टी का पुनःप्रयोग/पुनर्वास और इष्टतम परिणामों के लिए निविष्टियों के वैज्ञानिक प्रयोग पर सलाह जैसी विभिन्न विकासात्मक गतिविधियाँ कार्यान्वित करते हैं।

महाबैंक कृषि अनुसंधान व ग्रामीण विकास फाउंडेशन  ( एम. ए. आर. डी. इ. एफ. )  डेअरी, इमू पालन, भेड़ पालन, अंगूर की खेती, बागबानी और उर्वरक आदि विभिन्न निविष्टियों के वैज्ञानिक प्रयोग जैसी विविध गतिविधियाँ शुरू करने को बढ़ावा देकर देहातों के सामाजिक-आर्थिक विकास में सक्रिय है। यह फाउंडेशन विशेषतः छोटे तथा सीमान्त किसानों की समय पर बैंक ऋण पाने में मदद करता है।

बैंक ने पुणे, औरंगाबाद, नागपुर, नाशिक और अमरावती में एक-एक ऐसी पाँच महाबैंक स्व-रोज़गार प्रशिक्षण संस्थाएँ ( महाबैंक सेल्फ एम्प्लॉयमेंट ट्रेनिंग इन्स्टिट्यूट एम. एस. इ. टी. आई. ) स्थापित कीं। ये संस्थाएँ स्व-रोज़गार के लिए ग्रामीण युवाओं तथा महिलाओं को प्रशिक्षण देती हैं। इन संस्थाओं द्वारा अब तक कुल 4605 उम्मीदवारों ने प्रशिक्षण प्राप्त किया है।

बैंक ऑफ महाराष्ट्र द्वारा 1989 में गठित ग्रामीण महिला वा बालक विकास मंडळ ( जी. एम. व्ही. बी. व्ही. एम. )  नामक गैर-सरकारी संस्था; स्व-सहायता समूह ( एस. एच. जी. )  के गठन, पालन तथा बैंक ऋण के साथ सुविधाजनक संयोजन में सक्रिय रूप से जुटी हुई है। ग्रामीण महिला वा बालक विकास मंडल इन स्व-सहायता समूहों को पुणे शहर में “सावित्री” के नाम से दो बिक्री केन्द्रों द्वारा उनके उत्पादन बेचने में मदद करता है।

ग्रामीण महिला वा बालक विकास मंडल. इन स्व-सहायता समूहों को उनके उत्पादन के लिए अच्छे स्तर का कच्चा माल और निविष्टियाँ प्राप्त करने एवं विपणन तथा बिक्री सहायता देने में मदद करता है। बेहतर एस.एच.जी को छोटे और मध्यम उद्यम में परिवर्तित होने में मदद की जाती है। जी. एम. व्ही. बी. व्ही. एम. को महाराष्ट्र सरकार द्वारा मदर एन. जी. ओ. के रूप में घोषित किया गया है।

बैंक ऑफ महाराष्ट और हनुमान व्यायाम प्रसारक मंडळ का संयुक्त प्रयास; महाबैंक विदर्भ शेतकरी जागृति अभियान विदर्भ के छह ज़िलों के 5750 से अधिक आपत्तिग्रस्त किसानों तक सलाह एवं प्रशिक्षण सत्रों के ज़रिये पहुँच पाया है।

Maharashtra Bank - One Family One Bank
उद्यमी मित्र
एनआरआई ग्राहक ध्यान दें
सीवीसी द्वारा सत्यनिष्ठा प्रतिज्ञा

User Manual - UPI
क्या आपका खाता "अपने ग्राहक को जाने" ( केवायसी ) अनुपालन युक्त है?
Locate Branch/ATM
Bank's Willful Defaulters
Complaints / Grievances / Suggestions
Processing fee waived off on Housing Loan & Vehicle Loan w.e.f. 01.09.2017 to 31.12.2017

07.10.2017 से प्रभावी संशोधित निधि आधारित उधारी दर की सीमांत लागत (एमसीएलआर)

01.02.2016 की अधिसूचना के सेवा प्रभारों में 01.08.2017 से संशोधन

01.07.2017 से एसएमएस प्रभार

अंतरराष्ट्रीय डेबिट कार्ड के बार-बार पूछे जानेवाले प्रश्न

थोड़ी सी अतिरिक्त सावधानी आपके ऑनलाईन संव्यवहारों को अधिक सुरक्षित करती है

खाता पोर्टेबिलिटी: बैंक में एक शाखा से दूसरी शाखा में खाते का स्थानांतरण

ग्राहकों के प्रति बैंक की वचनबद्धता का कूट

पीपीएफ खाता खोलने के लिए प्राधिकृत शाखाओं की सूची

भारिबैं मौद्रिक संग्रहालय – भारतीय रिज़र्व बैंक

संग्रहालय के संबंध में सामान्य जानकारी
विशेष शाखा की सूची
दर्शक
Counter
महत्‍वपूर्ण : बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र फोन कॉल/ई मेल/एसएमएस के माध्‍यम से किसी भी उद्देश्‍य के लिए बैंक खाते के ब्‍यौरों की मांग कभी नहीं करता।

बैंक अपने सभी ग्राहकों से अपील करता है कि ऐसे फोन कॉल/ ई मेल/एसएमएस का उत्‍तर न दें और किसी भी उद्देश्‍य से किसी से भी अपने बैंक खाते के ब्‍यौरे साझा न करे। किसी से न भी अपने डेबिट/क्रेडिट कार्ड का सीवीवी/प्रिंट साझा न करे।